केवल ऋणात्मक विचार इंसान को नहीं गलत बनाते हैं?

सकारात्मक भावना केवल ईर्ष्या, निराशा, उदासी, क्रोध, भय, लज्जा, शोक और ग्लानि से नहीं जुड़ी होती हैं।  नकारात्मकता  हमारे मन में तब भी उत्पन्न होती हैं जब हम अपनी ख़ुशी…

Continue Readingकेवल ऋणात्मक विचार इंसान को नहीं गलत बनाते हैं?

रोगी रोग से नहीं मृत्यु के डर से मरता हैं!

हम humans किसी disease से कम और मृत्यु के बारे में सोच के ज्यादा मरते हैं। यदि मुझे cancer जैसा  गंभीर disease हो गया हैं तो क्या मुझे उसके बारे…

Continue Readingरोगी रोग से नहीं मृत्यु के डर से मरता हैं!

ऊर्जा को आनंद में कैसे बदले? – How to convert energy into bliss?

अपनी pocket को empty रख तुम किसी गरीब का घर नहीं भर सकते।  खुद की झोली भरी होगी so आपके hands help के लिए always up होंगे। Energy और Happiness…

Continue Readingऊर्जा को आनंद में कैसे बदले? – How to convert energy into bliss?