केवल ऋणात्मक विचार इंसान को नहीं गलत बनाते हैं?

सकारात्मक भावना केवल ईर्ष्या, निराशा, उदासी, क्रोध, भय, लज्जा, शोक और ग्लानि से नहीं जुड़ी होती हैं।  नकारात्मकता  हमारे मन में तब भी उत्पन्न होती हैं जब हम अपनी ख़ुशी…

Continue Readingकेवल ऋणात्मक विचार इंसान को नहीं गलत बनाते हैं?